FIR against Mukesh Gupta,

निलंबित आईपीएस मुकेश गुप्ता समेत 3 पर एफआईआर दर्ज

बैंक मैनेजर की शिकातय पर एफआईआर दर्ज

रायपुर. नान घोटोल में एफआईआर होने के बाद निलंबित आईपीएस मुकेश गुप्ता (FIR against Mukesh Gupta) की परेशानी कम होने का नाम नहीं ले रही है। ईओडब्ल्यू के अधिकारियों ने शिकायत मिलने पर निलंबित आईपीएस मुकेश गुप्ता और एमजीएम के ट्रस्टी जयदेव गुप्ता, दीपशिखा अग्रवाल और अन्य पर एफआईआर दर्ज की है।

यह भी पढ़े: इलाज के दौरान बंदी की मौत, जेल के आरक्षकों ने किया शव का अंतिम संस्कार

इन सभी पर आर्थिक अनिमितता का आरोप लगा है। उनके खिलाफ बैरन बाजार स्थित स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के मैनेजर ने ईओडब्ल्यू में शिकायत की है। बैंक मैनेजर का कहना है, कि एमजीएम ट्रस्ट ने बैंक से 3 करोड़ अनुदान लेकर राशि को अपना कर्ज पटाने के लिए इस्तेमाल किया है।

यह भी पढ़े: सोनिया गांधी की बैठक में गहलोत बोले, राज्य को 10 हजार करोड़ का नुकसान

बैंक मैनेजर की शिकायत पर एमजीएम ट्रस्ट के जिम्मेदार और निलंबित आईपीएस मुकेश गुप्ता (FIR against Mukesh Gupta) समेत अन्य के खिलाफ एफआईआर दर्ज करके जांच शुरू कर दी है। 

विवादों में  निलंबित आईपीएस

आईपीएस मुकेश गुप्ता (FIR against Mukesh Gupta) के खिलाफ यह पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी जमीन आवंटित समेत आधा दर्जन आरोप उन पर लगे हैं। इन सभी मामलों में ईओडब्ल्यू जांच कर रही है।

यह भी पढ़े: रतलाम में हुई ऐसी शादी जिसने देखी वो आंसू झलका बैठा, बन गई मिसाल

विवेचना जारी है

ईओडब्लयू के अधिकारियों ने निलंबित आईपीएस समेत 3 पर एफआईआर होने की पुष्टि की है। अधिकारियों ने बताया कि आर्थिक अनिमितता करने का आरोप बैंक मैनेजर ने लगाया है। मामलें में जांच की जारी है। निलंबित आईपीएस समेत सभी आरोपियों को मामलें में जवाब तलब करने के लिए नोटिस जारी किया जाएगा।  

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*