Fierce attack on forest personnel caught for smuggling teak, 13

सागौन की तस्करी पकडऩे गए वन कर्मियों पर बड़ा हमला, 13 पर एफआईआर

रायपुर . वन विभाग की टीम (CG forest) को एक बार फिर पिटाई करने का मामला सामने आया है। विजयपुर गांव के पास अवैध सागौन के चौखट की सूचना मिलने के बाद दबीश देने पहुंची विभाग की टीम पर ग्रामीणों ने हमला कर दिया। मुंगेली वनमंडल के लोरमी वन परिक्षेत्र अंतर्गत रेंजर निखिल पैकरा की टीम ने एक पिकअप वाहन को घेराबंदी करके विजयपुर गांव के पास पकड़ा।

ये भी पढ़े – पुणे से लौट रही छत्तीसगढ़ के मजदूरों से भरीं बस और ट्रक का एक्सीडेंट, चार की मौत

इस दौरान पिकअप वाहन में सवार बांधा निवासी तीन लोगों ने बसंत महिलांगे वनरक्षक एटीआर, नागेश्वर नवरंग अग्निरक्षक, शिव सागर, (CG forest) वन प्रबंधन बांधा के सदस्य पर डंडे से हमला कर लहूलुहान कर दिया। एक वन कर्मी का हाथ में टूट गया है। इसके बाद वन विभाग ने जूनापारा चौकी में सरपंच मेकी सोनवानी सहित अन्य 12 आरोपियों के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज कराई है। बताया जा रहा है कि सभी आरोपी फरार हैं।

ये भी पढ़े- BREAKING : अब कांकेर में भी मिल गया एक कोरोना पॉजीटिव, मुंबई से लौटा था

मुंगेली वनमंडल डीएफओ कुमार निशांत ने इस मामले में कहा कि इस घटना को अंजाम देने वाले आरोपियों को बख्शा नहीं जाएगा। (CG forest) पुलिस के आला अधिकारियों व प्रशासन से बात कर कार्रवाई तेज होगी। मुंगेली और बिलासपुर एसपी को सूचना दे दी गई है। विभाग ने अभी 13 आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है। जिसमें एक सरपंच भी शामिल है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*