Corona update,

Fear of corona: बिना सुरक्षा लगाई 500 आदिवासी छात्रावासों के अधीक्षकों की ड्युटी

न तो मास्क दिए गए हैं न ही सेनिटाइजर

रायपुर. Fear of corona प्रदेश के 500 से ज्यादा आदिवासी छात्रावासों को कारोंटाइन सेंटर बनाया गया है। यहां प्रवासी मजदूरों को रखा गया है। सभी सेंटरों में एक अधीक्षक, चपरासी और रसोईयों की ड्यूटी लगाई गई है। अब सूरजपूर में दो छात्रावास अधीक्षक को कोरोना संक्रमित होने की खबर के बाद स्टॉफ में हड़कंप मचा हुआ है।

यह भी पढ़ें- Chhattisgarh news: रूस में फंसे प्रदेश के 325 छात्र, परिजनों ने वापस लाने की मांग

बतादें कि छात्रावासों में काम करने वाले (Fear of corona) अधिकारी कार्मचारियों को शासन की ओर से न तो मास्क दिए गए हैं न ही सेनिटाइजर। ऐसे में पूरा स्टॉफ जान हथेली में रख कर प्रवासी मजदूरों की सेवा करने में जुटा हुआ है। इस संबंध में कई अधीक्षकों ने विभाग के सचिव को शिकायत भी की है।

हर छात्रावास में 200 से ज्यादा मजदूर

बतादें कि अधिकांश छात्रावासों (Fear of corona) में दो सौ से ज्यादा मजदूर रह रहे हैं। इन छात्रावासों उनके रहने खाने से लेकर स्वच्छता संबंधी कार्य विभाग के कर्मचारियों द्वार किया जा रहा है। अधिकारी कर्मचारियों की 24 घंटे के लिए तैनात किया गया है।

कन्या छात्रावास में भी सेंटर

विभाग ने कन्या छात्रावासों को प्रवासी मजदूरों के कारोंटाइन सेंटर बनाया गया है जिनमें महिला मजदूरों को रखा गया है। इन सेंटरों में महिला अधीक्षकों की ड्युटी लगाई गई है।

छत्तीसगढ़ में कुल 49 कोरोना पॉजिटिव

सूबे में अब 15 कोरोना पॉजिटिव एक्टिव केस के तौर पर हैं। वहीं कुल कोरोना (coronavirus covid-19) पॉजिटिव लोगों का आंकड़ा 49 पहुंच गया है। सूबे के कोरबा जिले में सबसे ज्यादा 28 केस सामने आए वहीं मंगलवार को ही सूरजपुर में एक साथ 10 केस सामने आ गए। रायपुर में 6, धमतरी, जशपुर, दुर्ग, राजनांदगांव और बिलासपुर में एक एक संक्रमित पाए गए हैं।

  • छात्रावासों अधीक्षक को बनाया गया है कोरनटाइन सेंटर
  • ड्यूटी कर रहे अधीक्षक और स्टाफ को नहीं दिए गए सुरक्षा उपकरण
  • सूरजपुर के छात्रावास में मिले पॉजिटिव के बाद डरे हैं स्टाफ

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*