PM Narendra Modi,

किसान आत्मनिर्भर भारत का आधार: पीएम नरेंद्र मोदी

मन की बात पर पीएम मोदी ने की प्रशंसा

दिल्ली. कोरोना काल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने मन की बात कार्यक्रम के जरिए रविवार को देशवासियों को संबोधित किया। मन की बात कार्यक्रम में पीएम मोदी ने किसानों का जिक्र किया और उनका किस्सा सुनाया।

पीएम मोदी ने कहा, कि हमारे यहां कहावत है, जो जमीन से जितना जुडा होता है, तूफानों में उतना अडिग होता है। कोरोना के इस कठिन समय में हमारा कृषि क्षेत्र, हमारा किसान इसका जीवंत उदाहरण है। पीएम कहा, “संकट के इस काल में भी हमारे देश के कृषि क्षेत्र ने फिर अपना दमख़म दिखाया है। देश का कृषि क्षेत्र, हमारे किसान, हमारे गाँव, आत्मनिर्भर भारत का आधार है।

मिथको को तोड़ने का प्रयास

पीएम मोदी (PM Narendra Modi) ने कहा, कि बीते कुछ समय से इन क्षेत्रों ने खुद को अनेक बंदिशों से आजाद किया है, अनेक मिथकों को तोड़ने का प्रयास किया है। पीएम ने क कहा, कि हरियाणा के एक किसान भाई ने बताया, कि एक समय था, जब उन्हें अपने फल मंडी में बेचने में दिक्कत आती थी। 2014 में फल और सब्जियों को APMC Act से बाहर कर दिया गया, इसका उन्हें और आसपास के साथी किसानों को बहुत फायदा हुआ।  

शहीद भगत सिंह को किया याद

शहीद भगत सिंह को पीएम (PM Narendra Modi) ने याद करते हुए कहा, कि 1919 का साल था। जलियांवाला बाग नरसंहार के बाद एक बारह साल का लड़का उस घटनास्थल पर गया। वह खुशमिज़ाज और चंचल बालक, लेकिन, उसने जलियांवाला बाग में जो देखा, वह उसकी सोच के परे था। वह मासूम गुस्से की आग में जलने लगा था। उसने जलियावाला बाग में अंग्रेजी शासन के खिलाफ लड़ने की कसम कल, 28 सितम्बर को हम शहीद वीर भगतसिंह की जयन्ती मनायेंगे। मन की बात कार्यक्रम में पीएम ने सर्जिकल स्ट्राइक का जिक्र भी किया।

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*