Farmer organized classes in Bari by explaining to children social distance

बच्चों को सोशल डिस्टेंस समझाकर किसान ने बाड़ी में लगाई कक्षाएं

जशपुर . जिले में एक किसान की बेहद तारीफ हो रही है। इस किसान ने बच्चों की school पढ़ाई बाधित न हो इसलिए खुद को एक शिक्षक के तौर पर साबित किया। लॉकडाउन में बच्चे ज्ञान से अछूते न रहें, इसलिए पंचायत सुरेशपुर के ठेलुपारा निवासी रंजित कुजुर ने आस पास के बच्चों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराते हुए अपनी बाड़ी में पेड़ के नीचे ठंडक में बच्चों की school क्लास लगाई है। यह तस्वीर काफी वायरल हो रही है।

इसे जिस किसी ने भी देखा वह इस तरकीब का कायल हो गया। रंजीत ने बताया कि वे पढ़ नहीं, पढ़ाई बीच में ही छूट गया लेकिन बच्चे आगे बढ़े और पढ़ें इसलिए उन्होंने इस तरह से लॉकडाउन में बच्चों को पढ़ाने school का निर्णय लिया। सबसे पहले तो उन्होंने सभी बच्चों को सोशल डिस्टेंस के बारे में बताया। कोरोना संकट के बारे में भी चेताया। लॉकडाउन का पालन करने और अपने घरों में भी कराने के लिए प्रेरित किया।

ये भी पढ़े – लॉकडाउन में बंद पड़ी कटोरा तालाब वाइन शॉप से 13 पेटी शराब चोरी

इसके बाद करीब 15 बच्चों को एकत्र कर पढ़ाना शुरु किया। अभी वे कक्षा 8वीं तक के बच्चों को पढ़ा रहे हैं। बता दें कि प्रदेश में कोरोना लॉकडाउन की वजह से सभी स्कूल और कॉलेजों को बंद रखा गया है। बच्चों को पढ़ाई कराने के लिए शासन ने ऑनलाइन प्लेटफार्म तैयार किया है, जिसमें शिक्षक बच्चों को वॉट्सऐप और दूसरे ऐप के जरिए ऑनलाइन पढ़ा रहे हैं।

यह भी समझें

छत्तीसगढ़ के school कॉलेजों में शैक्षणिक कलेंडर के अनुसार पढ़ाई कराने की कवायद, उच्च शिक्षा विभाग ने शुरु कर दी है। प्रदेश के school में ऑनलाइन क्लास (ONLINE EDUCATION) लगाई जाएगी।

यह भी पढे़:lockdown के दौरान छात्रों को ऑनलाइन शिक्षा दे रहे शिक्षक

राज्य सरकार के इस निर्देश का पालन हो, इसलिए उच्च शिक्षा विभाग के आयुक्त 10 सदस्यों की बनाई है। school, विश्वविद्यालय और कॉलेजों में ऑनलाइन क्लास लगाने का निर्देश उच्च शिक्षा विभाग ने बुधवार की शाम जारी किया है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*