Dried ration will be distributed again, children will get pulses, oil, dry vegetables from cooking cost

फिर बंटेगा सूखा राशन, कुकिंग कॉस्ट से बच्चों को मिलेगी दाल, तेल, सूखी सब्जी

रायपुर . लोक शिक्षण संचालनालय ने एक आदेश जारी कर कहा है कि (DPI CG) शासकीय स्कूलों के बच्चों को ग्रीष्मकाल का भी मध्यान्ह भोजन उपलब्ध कराया जाएगा। जिला विभाग को इसकी प्रक्रिया शुरू कराने को कहा गया है। संचालनालय ने जारी किए पत्र में कहा है कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए स्कूल बंद ही रखेंगे जाएंगे।

ये भी पढ़ेनक्सल इलाके में तैनात पुलिसकर्मियों को मिला प्रमोशन

ऐसी स्थिति में बच्चों को भी पका हुआ गरम भोजन नहीं दिया जा सकता। (DPI CG) इसलिए खाद्य सुरक्षा भत्ता के तहत इन बच्चों को सूखा चावल मिलेगा। यही नहीं कुकिंग कॉस्ट की राशि से दाल, तेल सूखी सब्जी का इंतजाम भी कराया जाएगा। जिला शिक्षा विभाग जल्द ही सामाग्री वितरण की तिथि बताएगा।

ये भी पढ़े – भरी धूप में खुद रोजा रहकर दूसरों का पेट भरने निकले मुस्लिम युवक

बीईओ, सीएससी करेंगे मदद

कोरोना वायरस की वजह से दुर्ग जिले की सरकारी स्कूलों के करीब सवा लाख विद्यार्थियों को मध्यान्ह भोजन के बदले सूखा राशन उपलब्ध कराया जाएगा। स्कूली बच्चों को पोषण आहर मिलता रहे, इसलिए राज्य सरकार की ओर से यह व्यवस्था की गई है। राशन के वितरण की जिम्मेदारी बीईओ, सीएससी और प्रधान पाठकों को सौंपी गई है।

ये भी पढ़े – 25 मई को छत्तीसगढ़ में अब हर साल मनाया जाएगा झीरम श्रद्धांजलि दिवस

वितरण के दौरान धुलेंगे हाथ

दाल-चावल वितरित करने के लिए जो भी टीम आएगी, (DPI CG) उसको पहले अपने हाथों को ठीक से धोना होगा। यहां सोशल डिस्टेंस का भी ख्याल रखना जरूरी होगा। एक घर में सिर्फ एक लोग ही जाएगा, ताकि भीड़ न लगे। इस संबंध में जिला शिक्षा अधिकारी प्रवास सिंह बघेल ने बताया कि राशन वितरण में लगे लोगों को पास दिए जाएंगे। सभी थानों को खबर कर दी गई है कि अगर शिक्षक स्कूल के काम से आते हैं तो उन्हें कहीं पर ना रोका जाए।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*