corona virus cg home isolation hanged

Home isolation में रखे गए धमतरी के युवक ने लगा ली फांसी

रायपुर . छत्तीसगढ़ में लॉकडाउन के बीच धमतरी जिले की एक बड़ी खबर आई है। जिले के टांगापानी गांव के रहने वाले 35 वर्षीय गनपत मरकाम ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। सबसे खास बात यह है कि इस युवक को कोरोना संक्रमण के चलते Home isolation होम आइसोलेशन में रखा गया था।

धमतरी पुलिस के मुताबिक युवक लॉकडाउन के बाद 20 मार्च को बेंगलुरु से धमतरी आया था था। कुछ दिन पहले बेंगलुरु वह बीते कुछ दिनों से बेंगलुरु गया हुआ था। कोरोना की वजह से संदिग्ध के दायरों की वजह से उसे होम Home isolation आइसोलेशन में रहने की हिदायत दी गई थी।Home isolationमें होने के बाद भी वह चोरी-चुपके और जबरदस्ती करके बाहर घूमने निकल जाता था। जब परिवार के सदस्य उसे कोरोना आइसोलेशन के बारे में बताते तो वह उन्हें झिडक़ दिया करता था।

पेड़ में लटकी मिली युवक की लाश

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक उक्त युवक की लाश टांगापानी गांव के तालाब के पास के पेड़ पर लटकी हुई मिली। युवक ने उस वक्त टीशर्ट पहना हुआ था। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी और आत्महत्या के पीछे के कारणों की तलाश भी जारी है।

प्रदेश में इस तरह का पहला केस

छत्तीसगढ़ में Home isolation के दौरान आत्महत्या करने का यह पहला मामला है। लॉकडाउन के दौरान लोग घर से ना निकले इसलिए पुलिसकर्मी सख्ती कर रहे है और कोरोना संदेही मरीजों को Home isolation में रखा जा रहा है।

ऐसे में यह युवक भी बैंगलुरु से वापस आने के बाद सरकारी निगरानी में कोरोना के लिए होम आइसोलेशन पर था। घटना के बाद से गांव के लोगों की प्रतिक्रिया आने लगी। लोग कह रहे थे कि डिप्रेशन इस आत्महत्या के पीछे बड़ी वजह हो सकती है।आत्महत्या के पीछे के कारणों की तलाश भी जारी है।

यह भी पढ़े – कोरोना का खौफ: महिला को गांव से निकाला, पुलिस ने कराई जांच, रिपोर्ट निगेटिव

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*