Durg first district in Chhattisgarh which will have its own special website

डीईओ ने निजी स्कूलों से मांगी शिक्षकों की पे-स्लीप, वेतन में कटौती की मिली शिकायत

भिलाई . जिला शिक्षा विभाग DPIcg को ऐसे एक दर्जन स्कूलों की शिकायत मिली है, जिन्होंने अपने शिक्षकों को वेतन का आधा हिस्सा दिया। वहीं कुछ स्कूलों ने तो शिक्षकों को वेतन देने से भी इनकार कर दिया। लॉकडाउन की स्थिति में शिक्षकों को पूरा वेतन देने के लिए लोक शिक्षण संचालनालय पहले ही आदेश जारी कर चुका था, लेकिन निजी स्कूल संचालकों ने इसे दरकिनार कर दिया। जिला शिक्षा विभाग ने इन स्कूलों को नोटिस भेजने की तैयारी कर रहा है।

ये भी पढ़े – एम्स रायपुर से दो मरीज हुए डिस्चार्ज, संख्या अब हुई 5

वहीं डीईओ प्रवास बघेल ने एक आदेश जारी कर कहा है कि, विभाग को ऐसे स्कूल की शिकायत मिली है, जो शिक्षकों के वेतन में कटौती कर रहे हैं या वेतन ही नहीं दे रहे। विभाग ने सभी निजी स्कूलों को आदेश दिया है कि वें शिक्षकों एवं अन्य कर्मचारियों का माह जनवरी, फरवरी और मार्च की पे-स्लीप एवं इससे पूर्व किए गए भुगतान का प्रमाण DPIcg पत्र एक हफ्ते के भीतर कार्यालय भिजवाएं। विभाग ने साफ तौर पर कह दिया है कि यदि किसी भी स्कूल के वेतन ेदेय में असमानता पाई गई तो इसे सरकारी आदेश का उल्लंघन मानते हुए कार्रवाई की जाएगी।

दुर्ग जिले में कितने निजी स्कूल

जिला शिक्षा विभाग के मुताबिक दुर्ग जिले में करीब 630 निजी स्कूल संचालित हैं, जिनमें से ४० फीसदी बड़ी छात्र संख्या के साथ संचालित हो रहे हैं। लॉकडाउन की वजह से अभी स्कूलों को बंद कर दिया गया है। यही वजह है कि स्कूल संचालकों ने अपने शिक्षकों DPIcg से कह दिया है कि जब तक स्कूल बंद है, उनको आधा वेतन या फिर उक्त माह का वेतन नहीं दिया जाएगा। इन सभी स्कूलों में से अधिकांश का यही हाल है। अभी तक कुछ स्कूलों की शिकायत ही विभाग को मिल पाई है।

नोडल को दी जिम्मेदारी

शिक्षा विभाग ने अपने तमाम नोडल और सहायक नोडल को जिम्मेदारी दी है कि वे अपने अधीन आने वाले निजी स्कूूलों की निगरानी करें। साथ ही इन्हें अपने शिक्षकों को पूरा वेतन देने के लिए निर्देशित करें। विभाग ने अच्छी पहल करते हुए स्कूलों से शिक्षकों को दिए जाने वाले वेतन का पे-स्लीप मांगा है, जिससे अब स्कूल संचालक चालाकी नहीं कर पाएंगे।

निजी स्कूलों के शिक्षकों की शिकायत मिली थी कि स्कूल उनके वेतन में कटौती करके दे रहा है। कुछ शिक्षकों ने यह भी बताया कि उनको कुछ माह से वेतन ही नहीं दिया गया है। हम इनके खिलाफ कार्रवाई करेंगे। स्कूलों को वेतन कटौती नहीं करने के लिए निर्देशित किया गया है। – प्रवास सिंह बघेल, डीईओ, दुर्ग

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*