Deepa Malik is taking retirement, the first woman to win a medal in the Paralympic Games

दीपा मलिक ले रही हैं सन्यास, पहली महिला जिसने पैरालंपिक खेल में मेडल दिलाया

SPORTS DESK . पहली भारतीय खिलाड़ी Deepa malik जिसने पैरा ओलंपिक खेलों में भारत के लिए मेडल जीता। जी..हां, हम बात कर रहे हैं दीपा मलिक की। उनसे जुड़ी एक चौकाने वाली खबर आई है। दीपा ने सक्रिय खेलों से संन्यास ले लिया है। से बात सच है। उन्होंने यह फैसला इस साल ही लिया है। दीपा ही भारतीय पैरालंपिक समिति (पीसीआई) की अध्यक्ष भी है।

रियो पैरालंपिक खेल 2016 की गोला फेंक की एफ 53 स्पर्धा में रजत पदक जीतने वाली 49 साल की दीपा Deepa malik को दिल्ली हाई कोर्ट के निर्देश पर फरवरी में हुए चुनाव मे पीसीआई का अध्यक्ष चुना गया। हालांकि पीसीआई का मामला शुरुआत से विवाद में फंसा रहा जिसको खेल मंत्रालय ने कभी मान्यता ही नहीं दी।

ये भी पढ़ेसीरीज और विश्वकप रद्द होने से ऑस्ट्रेलिया को 30 करोड़ डॉलर का सीधा नुकसान

जानिए… दीपा ने क्या कहा

नामांकन पत्र दाखिल करने से पहले पिछले साल सितंबर में ही मैंने संन्यास ले लिया था। मैंने सार्वजनिक घोषणा कभी नहीं की। संन्यास से संबंधित पत्र बीते साल सितंबर में पीसीआई को सौंपा था। अगर आप दीपा की खेल अदाकारी को पसंद करते हैं तो आपको ये भी मालूम ही होगा कि उनको देश के सर्वोच्च खेल सम्मान राजीव गांधी खेल रत्न से सम्मानित किया जा चुका है।

मान्यता की जद्दोजहद जारी

आपको पता ही है कि दीपा Deepa malik भारतीय पैरालंपिक संघ (पीसीआई) की वर्किंग अध्यक्ष हैं। उनके नेतृत्व में ही पीसीआई खेल मंत्रालय द्वारा मान्यता मिलने का इंतजार कर रहा है। इसमें दीपा की भूमिका भी है, क्योंकि वही इस जद्दोजहरद में सबसे आगे हैं। दीपा ने पत्रकारों से कहा है कि दिल्ली उच्च न्यायालय ने चुनाव को वैध बताया है और नई समिति को कार्यभार संभालने की इजाजत दे दी है।

ये भी पढ़े कोरोना के बढ़ते मामलों से गांगुली दुखी, बोले… मैं इसका खात्मा करना चाहता हूं

हालांकि इस पूरे मामले को सुलझाया ही गया था कि अचानक कोरोना वायरस का कहर देश पर बरपा और सबकुछ चौपट कर गया। दीपा ने कहा कि हमने सभी जरूरी कागजात खेल मंत्रालय को दे दिए हैं। नेशनल खेल कोड के मुताबिक दीपा एक खिलाड़ी रहते हुए कोई आधिकारिक पद नहीं ले सकती, इसलिए उनको सन्यास लेना होगा।

खेल से जुड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*