shivraj kamlnath

कमलनाथ सरकार के कार्यकाल में हुए फैसलों की होगी जांच

कांग्रेस सरकार द्वारा गठित कृषि सलाहकार परिषद भंग

भोपाल. Kamal Nath decisions will be investigated शिवराज सरकार ने पूर्व की कमलनाथ सरकार के आखिरी 6 महीनों में लिए गए फैसलों की जांच करना शुरू कर दिया है। इसके लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पिछले दिनों 3 सदस्यीय कमेटी का गठन भी कर दिया।

ये भी पढ़े : फिर आज 11 बजे से सोमवार सुबह 6 बजे तक जिले में टोटल लॉकडाउन

राज्य के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री नरोत्तम मिश्रा (Kamal Nath decisions will be investigated) को इस कमिटी का अध्यक्ष बनाया गया है। वहीं मंत्री तुलसी सिलावट और कमल पटेल इस कमिटी के अन्य दो सदस्य हैं।

ये भी पढ़े : मंत्री टीएस सिंहदेव की खडगांव नर्सरी में घुसे हाथी, वन अमला मुस्तैद

मध्य प्रदेश की शिवराज सिंह सरकार ने पूर्व सीएम कमलनाथ के कार्यकाल में गठित की गई कृषि सलाहकार परिषद को भंग कर दिया है। सामान्य प्रशासन विभाग ने शुक्रवार को आदेश जारी कर दिया। आदेश के मुताबिक कृषि सलाहकार परिषद का गठन अब नए सिरे से किया जाएगा।

ये भी पढ़े : एनएसयूआई ने कुलपतियों को ज्ञापन सौंपा, कॉलेज छात्रों को भी मिले जनरल प्रमोशन

ऐसा माना जा रहा है कि कृषि सलाहकार परिषद (Kamal Nath decisions will be investigated) के नए सिरे से गठन जाएगा। शिवराज सरकार के कुछ मंत्रियों और भाजपा से जुड़े किसान नेताओं को इसका सदस्य बना सकता है। मुख्यमंत्री रहते हुए कमलनाथ ने कृषि सलाहकार परिषद का गठन बीते 5 फरवरी 2020 को किया था।

आखिरी समय में पूर्व सरकार ने कई बड़े फैसले लिए और रातों रात करोड़ों के टेंडर जारी किए जबकि राज्यपाल ने भी सरकार के फैसलों पर रोक लगाने की बात कही थी। बावजूद इसके पूर्व सरकार ने नियमों के विपरीत फैसले लेने का काम किया जिन्हें अब निरस्त किया जाएगा। अगली बैठक सोमवार को होगी जिसमें पुरानी सरकार के फैसलों की विस्तृत समीक्षा की जाएगी।

देश-दुनिया की ताजा खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*