Chhattisgarh corona update,

coronavirus के खिलाफ जंग में अमेरीकी कंपनी का नायाब अविष्कार..

महज 5 मिनट में टेस्ट का दावा, पता चल जाएगा कि व्यक्ति कोरोना संक्रमित हैं या नहीं

News Desk. एक ओर पूरी दुनिया में कोरोना coronavirus को लेकर हाहाकार मचा हुआ है और इसकी जद में दुनिया की महाशक्ति अमेरिका भी अछूता नहीं रहा ऐसे में एक अच्छी खबर सामने आ रही है। एक अमेरिकी कंपनी ने दावा किया है कि अब कोरोना coronavirus की जांच महज 5 मिनट में संभव हो जाएगा।

कोरोना वायरस coronavirus की जांच को लेकर अभी तक दुनिया में कोई सार्थक और आसान तरीका सामने नहीं आया था लेकिन इस बात की जरूरत महसूस की जा रही है कि इसकी जांच में तेजी आनी चाहिए ताकि इस महामारी के प्रसार को रोका जा सके। इस बीच अमेरिका की एक कंपनी ने दावा किया है कि उसने एक ऐसा डिवाइस विकसित किया, जिससे कोरोना का टेस्ट सिर्फ पांच मिनट में ही संभव हो जाएगा। यह डिवाईस पांच मिनट में ही बता देगा कि किसी व्यक्ति को कोरोना है या नहीं।

बता दें कि फोर्ब्स डॉट कॉम की रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिका के खाद्य और औषधि प्रशासन विभाग ने इसे मंजूरी भी दे दी है। मेडिकल डिवाइस बनाने वाली कंपनी एबॉट लेबोरेटरीज ने कोरोना वायरस coronavirus की जांच के लिए इस पोर्टेबल टेस्ट का प्रदर्शन किया है। एबॉट लेबोरेटरीज ने भी इस संबंध में जानकारी अपने ट्वीटर के माध्यम से दी है। साथ ही उन्होंने यह भी कहा है कि हम एक परीक्षण शुरू कर रहे हैं जो COVID​​-19 का पता लगा सकता है।

कंपनी ने अपनी विज्ञप्ति में कहा कि यह टेस्ट उसके ID NOW प्लेटफॉर्म पर होगा। यह एक छोटा, हल्का और पोर्टेबल डिवाइस है, जो मॉलिक्यूलर टेक्नोलॉजी पर काम करता है। एबॉट के इस ऐलान के बाद लोग आश्चर्यचकित रह गए। इस पर सोशल मीडिया पर भी चर्चा होने लगी। हालांकि बाद में इसे अमेरिकी विभाग ने अप्रूव भी कर दिया।

बताया जा रहा है कि अमेरिका खाद्य एवं औषधि प्राधिकरण ने कोरोना वायरस coronavirus का पता लगाने के लिए मॉलिक्यूलर प्वाइंट ऑफ केयर टेस्ट के लिए आपातकालीन उपयोग मंजूरी जारी कर दी है। यह जांच 5 मिनट में पॉजिटिव और 13 मिनट में निगेटिव रिजल्ट दे सकता है। सबसे गौर करने वाली बात यह है कि यह उपकरण बेहद छोटा और टेस्ट में आसान है। इसका उपयोग क्लीनिक में भी किया जा सकता है। ऐसा भी बताया जा रहा है कि आने वाले दिनों में इससे एक हफ्ते के अंदर पचास हजार से भी ज्यादा टेस्ट किए जाएंगे।

इधर अमेरिका पूरी तरह कोरोना वायरस coronavirus की गिरफ्त में आ चुका है। अमेरिका में कोरोना से संक्रमित कुल मरीजों की संख्या एक लाख के पार चली गई है। अमेरिका ने कोरोना केस के मामले में चीन, इटली और स्पेन को पीछे छोड़ दिया है। यहां अब तक 1693 लोगों की मौत हो चुकी है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*