Coronavirus,

साल 2021 की शुरुआत से ही उपलब्ध होगी कोरोना की वैक्सीन: डॉ हर्षवर्धन

3 वैक्सीन कैंडिडेट का परीक्षण अलग-अलग चरणों में

नई दिल्ली। देशभर में कोरोनावायरस (Coronavirus) का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। इस बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन (Union Health Minister Harsh Vardhan) ने गुरुवार को कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) को लेकर बड़ी खुशखबरी दी है।

हर्षवर्धन ने राज्यसभा (Rajya Sabha) में कहा कि कोविड वैक्सीन अगले साल की शुरूआत तक देश में उपलब्ध हो जाएगी। यह टिप्पणी ऐसे समय में आई है, जब भारत में मामलों की संख्या 50 लाख के पार हो चुकी है और देशवासी बेसब्री से वैक्सीन का इंतजार कर रहे हैं। स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा, “अन्य देशों की तरह भारत भी वैक्सीन के लिए प्रयास कर रहा है। 3 वैक्सीन कैंडिडेट का परीक्षण अलग-अलग चरणों में है। प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन में विशेषज्ञों का एक समूह इसे देख रहा है। हमें उम्मीद है कि अगले साल की शुरुआत तक भारत में वैक्सीन उपलब्ध हो जाएगी।”

पहला चरण हो चुका पूरा

जायडस केडिला और भारत बायोटेक द्वारा विकसित किए जा रहे दो टीके परीक्षण का पहला चरण पूरा कर चुके हैं। वहीं सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एसआईआई) ने ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया से मंजूरी मिलने के बाद फिर से परीक्षण शुरू कर दिया है। कोविशिल्ड वैक्सीन उम्मीदवार की मैन्यूफैक्चरिंग में भारत भागीदार है, जिसे ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय के जेनर इंस्टीट्यूट और एस्ट्राजेनेका द्वारा संयुक्त रूप से विकसित किया गया है। पुणे की फर्म एसआईआई देश में 17 परीक्षण स्थलों पर परीक्षण कर रही है।

corona vaccine

इसके अलावा रूसी प्रत्यक्ष निवेश कोष (आरडीआईएफ) और डॉ. रेड्डीज लेबोरेटरीज लिमिटेड ने भारत में स्पुतनिक-5 वैक्सीन के वितरण पर सहयोग करने पर सहमति जताई है। स्पुतनिक को रूस के गेमेल्या साइंटिफिक रिसर्च इंस्टीट्यूट ऑफ एपिडेमियोलॉजी एंड माइक्रोबायोलॉजी और आरडीआईएफ द्वारा विकसित किया गया था, जिसका 11 अगस्त को रजिस्ट्रेशन किया गया था। आरडीआईएफ द्वारा जारी एक बयान में कहा गया, “आरडीआईएफ डॉ. रेड्डीज को वैक्सीन (Coronavirus) की 100 मिलियन खुराक की आपूर्ति करेगा।”

जल्द ही भारत अमेरिका से आगे होगा

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने बताया कि जुलाई-अगस्त में भारत में 300 मिलियन कोरोना (Coronavirus) मामले और 5-6 मिलियन मौतों की बात कही गई थी। 135 करोड़ के इस देश में हम 11 लाख टेस्ट कर रहे हैं। हमसे ज्यादा कुल 5 करोड़ टेस्ट अभी तक अमेरिका ने किए हैं। हम जल्द ही अमेरिका को टेस्टिंग में पीछे छोड़ देंगे।

जुलाई-अगस्त में भारत में 300मिलियन कोरोना मामले और 5-6 मिलियन मौतों की बात कही गई थी। 135करोड़ के इस देश में हम 11लाख टेस्ट कर रहे हैं। हमसे ज्यादा कुल 5करोड़ टेस्ट अभी तक अमेरिका ने किए हैं। हम जल्द ही अमेरिका को टेस्टिंग में पीछे छोड़ देंगे : केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री, राज्यसभा pic.twitter.com/YyzVwlctMi

— ANI_HindiNews (@AHindinews) September 17, 2020

उन्होंने कहा कि, “पीएम मोदी के नेतृत्व में पूरा देश मिलकर कोरोना की लड़ाई को लड़ रहा है। पिछले 8 महीनों से जिस तरह से पीएम मोदी ने कोरोना से संबंधित छोटी से छोटी चीजों को बड़ी गहराई से मॉनिटर किया, लोगों को गाइड किया,उन्होंने सबकी सलाह ली। इसके लिए उन्हें इतिहास में याद किया जाएगा।”

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*