Corona Update India,

Corona news: चाईनीज कीट से नहीं होगी कोरोना की जांच

संदिग्ध परिणाम, केंद्र ने वापस मंगाई किट

रायपुर. Corona news प्रदेश में अब चाईनीज नहीं दक्षिण कोरिया की किट से कारोना की जांच होगी। संक्रमण की जांच के लिए केंद्र सरकार चाईना की बीनी रैपिड टेस्टिंग किट भेजी गई थी। इस किट के परिणाम सही नहीं आने के कारण केंद्र ने छत्तीसगढ़ समेत सभी राज्यों से किट वापस मांगा ली है।

यह भी पढ़े: चीन ने ग़लत जानकारी फैलाने के आरोपों का किया खंडन

अब प्रदेश में राज्य सरकार द्वारा खरीदी की गई टेस्टिंग किट से जांच होगी। राज्य सकार ने 75 हजार किट का आर्डर दिया है।

यह भी पढ़े: Chhattisgarh news: सरोज की सीख, छत्तीगढ़ी मजदूरों को भी वापस लाएं सीएम

बता दें कि केंद्र सरकार ने शुरुआत में चीन की दो कंपनी से खरीदी की थी। वह टेस्टिंग किट (Corona news) के परिणा गलत आ रहे थे। जिसकी वजह से इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) ने राज्यों से चाईनीज किट से टेस्टिंग पर रोक लगा दी थी।

4800 टेस्टिंग किट मिली थी केंद्र

अब केंद्र सरकार ने सभी राज्यों से किट वापस करने को कहा हैं। प्रदेश सरकार ने केंद्र से 4800 टेस्टिंग किट प्राप्त हुई थी। केंद्र के इस फैसले के बाद छत्तीसगढ़ सरकार ने टेस्टिंग किट की खरीदी की थी। अब प्रदेश में उसी किट से कोरोना पॉजिटिव की टेस्टिंग की जाएगी।

सीजीएमएससी ने की है खरीदी

स्वास्थ्य विभाग ने सीजीएमएससी ने 75 हजार रैपिड टेस्टिंग किट का टेंडर फाइनल किया है। छत्तीसगढ़ दवा निगम (CG Medical Corporation) द्वारा दक्षिण कोरिया की कंपनी एसडी बायोसेंसर हेल्थकेयर प्राइवेट लिमिटेड को 75 हजार किट मंगाई गई है। जिसमें से 25 हजार की सप्लाई हो चुकी है। रैपिड टेस्ट किट व आर्टी पीसीआर टेस्ट किट सभी जिलों को भेजी जाएगी।

गुणवत्ता जांच के बाद ही होगी सप्लाई

छत्तीसगढ़ में कोरोना टेस्टिंग किट (Corona news) की सप्लाई पर दो दिन के लिए लगा दी गई है। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव के निर्देश पर पहली खेप में आई 25 हजार किट की गुणवत्ता जांच करेंगे। इसके बाद आगे सप्लाई की जाएगी।

यह भी पढ़े: Strictness of lockdown in CG: 1346 लोगों को किया गया गिरफ्तार, 1549 एफआईआर

टेस्टिंग किट को लेकर सिंहदेव ने कहा कि अभी 25000 किट का उपयोग किया जा रहा है। प्रदेश का रेड जोन कटघोरा में इससे जांच की जा रही है। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव का कहना है कि दो दिनों में पता चल जाएगा कि किट सप्लाई के मानक में है कि नहीं। अगर गुणवत्ताहीन होगा तो एक साथ खरीदी रोक दी जाएगी

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*