Madhya Pradesh ready to deal with corona virus

खरतनाक हुआ कोरोना.. स्वस्थ्य और नौजवानों को भी बना रहा शिकार

News Desk. कोरोना वायरस coronavirus ने पूरी दुनिया में अपना रौद्र रूप दिखाना शुरू कर दिया है। हालिया जानकारी यह सामने आ रही है कि अब कोरोना वायरस में मौत के आंकड़े सिर्फ बुजुर्गों के ही नहीं बल्कि ऐसे नौजवानों के भी आने लगे हैं जो पूरी तरह से स्वस्थ्य थे।

अमेरिका में तीन हजार से ज्यादा लोगों को कोरोना ने निगल लिया और डेढ़ हजार लोगों की जाने जा चुकी है। वहीं इटली और स्पेन तो कोरोना के आगे बेबस नजर आ रहा है। मौत के बढ़ते आंकड़ों के बीच एक बात सामने आ रही है कि कोरोना से कई नौजवान और फिट लोगों की भी मौतें हो रही है।

जानकारों के मुताबिक पहले बुजुर्गों के लिए इसे ज्यादा खतरा बताया गया तो आलम ये हुए कि कई देशों के नौजवानों ने पाबंदियों को दरकिनार करते हुए पार्टी करते नजर आए। ये कोरोना संक्रमण के फैलाव के लिए मुफीद था।

डेली मेल की रिपोर्ट बताती है कि उत्तरी लंदन में रहने वाले 28 वर्षीय एडम हार्किन्स बिल्कुल फिट थे। उनका नाम कोरोना से जान गंवाने वाले सबसे कम उम्र के लोगों में शामिल हो गया। वो कोरोना से पहले बिल्कुल फिट था। वहीं बर्मिंघम में रहने वाली 33 वर्षीय भारतीय मूल की भी मौत कोरोना के चलते हो गई। एक दिन पहले उनके पिता सुधीर शर्मा की भी मौत कोरोना से हुई थी।

WHO के महानिदेशक टेड्रोज ए गेब्रियेसुस ने भी पिछले हफ्ते कहा था कि इससे नौजवान अपराजेय नहीं हैं। बुजुर्ग सबसे अधिक पीड़ित होंगे, लेकिन नौजवानों को कोरोना नहीं छोड़ेगा। आंकड़ों के मुताबिक अमेरिका के हॉस्पिटलों में भर्ती किए गए 500 मरीजों में 20 फीसदी यानी कि करीब 100 लोग, 20 से 44 साल की उम्र के थे। कोरोना को लेकर आईसीयू में भर्ती होने वाले हर 10 में से एक व्यक्ति भी नौजवान होता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*