Controversy in the Galwa border,

गलवा बार्डर में भारत-चीन के सैनिक आमने-सामने

2017 डोकलम विवाद के बाद फिर चीन की मनमानी से बढ़ा तनाव

दिल्ली. पूर्वी लद्दाख के गलवा फ्लैशपॉइंट पर बार्डर पर चीन ने अपनी मनमानी फिर से शुरू कर दी है। डोकलम विवाद के बाद लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल में चीनी और भारतीय सैनिकाे के बीच फिर से विवाद शुरू हाे गया है। गलवा (Controversy in the Galwa border) फ्लैशपॉइंट पर तंबू लगाकर चीन ने अपने सैनिक तैनात कर दिए है। चीन की इस हरकत के बाद भारत ने अतिरक्त फोर्स वहां भेजी है। अक्साई चिन के इलाके में अवैध कब्जा करने वाले चीन ने भारत पर आरोप लगाना शुरू कर दिया है। चीन के अधिकारियों का कहना है, भारत अवैध डिफेंस फैसलिटी बना रहा है।

यह भी पढ़े: योगी सरकार ने कहा, प्रियंका मैडम… बाइक के नंबर प्लेट वाली बसें भेज रही हो

चीन मीडिया के माध्यम से कर रहा जुबानी हमला

चीन की सरकारी मीडिया ने सूत्रों के हवाले से दावा किया है, कि भारत ने गलवा घाटी (Controversy in the Galwa border) में अवैध डिफेंस फैसिलिटी बनाई है। इस इलाके में भारत-चीन के सैनिको के बीच कई बार टकराव हो चुका है। चीन की मडिया के आरोप पर भारत का कहना है, कि चीन ने अस्थाई टेंट लगाकर सैनिकों को तैनात कर दिया है। चीन ने उन इलाको को टारगेट किया है, जहां भारतीय सेना के जवान पेट्रोलिंग करते है।  

यह भी पढ़े: आज से खुल गए सलून और पार्लर, ग्राहक अपने साथ लाना होगा टावेल

5 मई को भी हुआ था विवाद

चीन और भारतीय सैनिको के बीच 5 मई को भी विवाद हुआ था। चीन ने नाकूला (Controversy in the Galwa border) में अस्थाई तंबू लगाए थे, जिसके बाद भारतीय सेना के जवानों ने मना किया, तो विवाद शुरू हुआ था। विवाद के बाद दोनो तरफ के अधिकारियों ने आपसी सामंजस्य से विवाद को निपटा दिया था। 5 मई के बाद दोबारा टेंट लगाने के विवाद में फिर से विवाद होने की जानकारी सामने आ रही है। आपको बता दे कि तनाव केंद्र बना गलवा घाटी 1962 की जंग का भी एक ट्रिगर प्वाइंट थी।  

यह भी पढ़े: 3 साल बाद फिर चीन के सैनिकों से विवाद, नाकूला बार्डर में जवान भिडे़

डोकलाम विवाद की तर्ज पर हो रहा विवाद

अखबार द इकनामिक टाइम्स के अनुसार भारत ने गलवा में पेट्रोलिंग के लिए सड़क बनाई है। सड़क के जवाब में चीनी सैनिकों को तैनात किया गया है। गलवा में तनाव डोकलाम विवाद से मिलता जुलता है। भारत-चीन-भूटान के ट्राई जक्शन पर चीन एक सड़क बना रहा है। भारतीय सैनिक इसके विरोध में भीतर घुस गए है। इस घटना के बाद दोनो देशों ने फोर्स तैनात कर दी है। उच्च अधिकारियों की बात-चीत के बाद विवाद थमा था। 

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*