Contribution of women in the war against Corona

कोरोना महामारी से निपटने 25 महिला समूहों का योगदान, बना रही इको फ्रेंडली मास्क

रायपुर. कोरोना वायरस की वैश्विक महामारी (Global epidemic of corona virus) से निपटने के लिए सरगुजा में महिला शक्तियों ने कमर कस ली है। जिले में इस महामारी के खिलाफ जारी जंग के बीच 25 महिला स्व-सहायता समूह की महिलाएं इको फ्रेंडली मास्क बनाने में जुटी हुई हैं।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देशन में जिला प्रशासन सरगुजा द्वारा व्यापक तैयारियां की जा रही है। इसी क्रम में लोगो को किफायती दर पर गुणवत्ता युक्त मास्क उपलब्ध कराने हेतु जिले के सभी सात विकासखण्डों में करीब 25 स्व-सहायता समूह की महिलाओं द्वारा स्थानीय सामग्री की मदद से थ्री लेयर कपड़े के मास्क तैयार किया जा रहा है।

अब तक करीब 1300 मास्क तैयार किए जा चुके हैं। इन्हें स्थानीय स्तर पर 15 से 17 रुपये में बेचा जा रहा है। 24 मार्च तक 5000 मास्क तैयार करने का लक्ष्य रखा गया है। मास्क तैयार करने में अम्बिकापुर विकासखंड के एकता, संतोषी, साईबाबा स्व-सहायता समूह, लखनपुर विकासखण्ड के आरती, नारी शक्ति, गायत्री स्व-सहायता समूह, उदयपुर विकास खंड के दुर्गा स्व सहायता समूह, मैनपाट विकास खंड के जय माँ बूढ़ी दाई स्व सहायता समूह लुण्ड्रा विकासखंड के प्रीति, तारा स्व सहायता समूह सहित विकासखंड बतौली और सीतापुर की स्व सहायता समूह की महिलाएं शामिल है।

स्व सहायता समूह की महिलाओं को बिहान के मध्यम से आवश्यक सहयोग प्रदान किया जा रहा है। बिहान के जिला कार्यक्रम अधिकारी राहुल मिश्रा ने बताया कि स्व सहायता समूह की महिलाओं द्वारा बनाये जा रहे कपड़े के मास्क पर्यावरण अनुकूल है तथा इसे 3 से 4 घंटे उपयोग करने के बाद एंटीसेप्टिक युक्त पानी से धोकर फिर से उपयोग किया जा सकता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*