Congress comment,

हरदेव सिन्हा के निधन पर बीजेपी नेता स्तरहीन राजनीति कर रहे: त्रिवेदी

डॉ रमन सिंह और भाजपा अपनी गलतियों का दोष हम पर क्यों मढ रहे हैं ?

रायपुर. सीएम हाउस के बाहर आत्मदाह करने वाले मृतक हरदेव सिन्हा की मौत पर छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस (Congress comment) संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी शोक व्यक्त किया है। कांग्रेस प्रवक्ता त्रिवेदी ने कहा है, कि हरदेव सिन्हा का निधन बहुत ही दुख का विषय है। रमन सिंह जी जैसे वरिष्ठ नेता और भाजपा इस मामले में  स्तरहीन राजनीति कर रहे हैं।

डॉ रमन सिंह के ही कार्यकाल में तो हरदेव सिन्हा ने तो मुख्यमंत्री कार्यालय में आवेदन किया था, जिस पर रमन सिंह के समय कोई कार्यवाही नहीं हुई । रमन सिंह जी इस मामले में जिस तरह की राजनीति करना चाह रहे हैं वह 15 वर्ष तक राज्य के मुख्यमंत्री रहे नेता को शोभा नहीं देता है। कोरोना की विषम परिस्थिति में भूपेश बघेल सरकार ने मजदूरों को रोजगार दिया। प्रत्येक परिवार को राशन दिया। किसानों को राहत दी है। इतनी कठिन परिस्थितियों में  रमन सिंह  के द्वारा और भाजपा के द्वारा जो राजनीति की जा रही वह बेहद दुखद है।

भाजपा नेता मढ़ रहे कांग्रेस पर दोष

हरदेव सिंहा के निधन पर गहरा दुख व्यक्त करते हुये कांग्रेस (Congress comment) संचार विभाग के प्रमुख शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि रमन सिंह जी और भाजपा अपनी गलतियों का दोष हम पर क्यों मढ रहे हैं? 6 साल पहले दो करोड़ रोजगार के अवसर हर साल देने की बात कहकर भाजपा की सरकार ने उल्टा रोजगार के अवसरों को खतम करने का काम किया। इस बात को भुलाया नहीं जा सकता है, कि हरदेव सिन्हा ने अपना आवेदन रमन सिंह को ही मुख्यमंत्री रहते हुए दिया था। जिस पर रमन सिंह ने कोई कार्यवाही नहीं की।

भाजपा शासन में भी हुई घटनाएं

बच्चू लाल यादव की कवर्धा सीएम हाउस में आत्महत्या, योगेश साहू विकलांग युवक की सीएम हाउस में आत्महत्या, जांजगीर चाम्पा जिले के बेरोजगार युवक मनीराम खूंटे की आत्महत्या और हर दिन 3 से अधिक किसानों की रमन सिंह सरकार में हुई आत्महत्या की घटनाओं को अभी लोग भूले नहीं हैं । रमन सिंह जी इस मामले में जिस तरह की राजनीति करना चाह रहे हैं वह 15 वर्ष तक राज्य के मुख्यमंत्री रहे उनको यह शोभा नहीं देता है।

कोरोना काल में भूपेश सरकार ने दी सौगात

कोरोना की विषम परिस्थिति में भूपेश बघेल सरकार (Congress comment) ने 35 लाख मजदूरों को मनरेगा में काम दिया। प्रत्येक परिवार को निशुल्क चावल दिया गया। किसान योजना में 1600 करोड़ रुपए किसानों के खाते में दिए गए। निश्चित रूप से आज परिस्थितियां विषम है, कोरोना महामारी के कारण पूरा विश्व, पूरा देश और पूरा राज्य कठिन परिस्थितियों का सामना कर रहा है इसे देखते हुए रमन सिंह जी के द्वारा और भाजपा के द्वारा जो राजनीति की जा रही वह बेहद दुखद है।

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*