Common law admission exam,

28 सितंबर को क्लैट इग्जाम की घोषणा, छात्र असमंजस्य में इग्जाम होगा या नहीं!

छात्रों की समस्या का समाधान करने नोडलों ने लिखा वरिष्ठ अधिकारियों को पत्र

रायपुर। कॉमन लॉ एडिमशन इग्जाम (Common law admission exam) 28 सितंबर का आयोजित होना है। इस इग्जाम को लेकर प्रदेश के नोडलों और छात्रों ने तैयारी शुरु कर दी थी। शनिवार को रायपुर, बिलासपुर और दुर्ग कलेक्टर ने जिलों में लॉकडाउन की घोषणा की है।

कलेक्टरों की इस घोषणा ने नोडलों और छात्रों के माथे पर बल ला दिया है। लॉकडाउन में इग्जाम (Common law admission exam) किस तरह होगा? इसे लेकर छात्र और नोडल असमंजस्य में है। छात्रों ने जहां एक ओर लॉकडाउन खत्म होने के बाद इग्जाम लेने की मांग की है, तो वहीं दूसरी ओर नोडलों ने समस्या को देखते हुए चीफ सेकेट्री और प्रेसीडेंट को पत्र लिखा है। पत्र का जवाब आने के बाद ही मामलें में बयानबाजी करने और छात्रों के उठते सवालों का जवाब देने की बात नोडलों ने की है।

एचएनएलयू बना है नोडल

प्रदेश में कॉमन लॉ एडिमशन इग्जाम (Common law admission exam) का नोडल हिदायतुल्लाह नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी को बनाया गया है। यूनीवर्सिटी के जिम्मेदारों ने परीक्षा आयोजित कराने के लिए प्रदेश के रायपुर, बिलासपुर और भिलाई में सेटर बनाया है। सेंटरों की जानकारी छात्रों को दे दी गई है।

कॉमन लॉ एडिमशन इग्जाम में शामिल होने के लिए प्रदेश के 800 छात्रों ने रजिस्ट्रेशन कराया है। मामलें में हिदायतुल्लाह नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी के रजिस्ट्रार दीपक श्रीवास्तव ने बताया, कि परीक्षा पूर्व में आयोजित थी। लॉकडाउन शनिवार और पूर्व में लगा है। जिला कलेक्टर की गाइड लाइन के साथ में अटैच करके वरिष्ठ अधिकारियों को पत्र लिखा है। उनके जवाब का इंतजार है।

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*