lockdown

#lockdown: मोहल्लों में ताश और लूडो की सजी चौपाल, प्रशासन का पता नहीं

रायपुर. #lockdownलॉकडाउन के तीसरे दिन रायपुरवासी अपनी आदत से बाज नहीं आ रहे है। गुरुवार को राजधानीवसियों की लापरवाही को देखते हुए पुलिस ने मुख्य सड़को में सख्ती कर दी, तो राजधानीवासियों ने सड़क से तो दूरी बनाई, लेकिन मोहल्लों में तफरीह जारी रही।

लापरवाही का आलम यह कि लॉकडाउन (lockdown) में अधिकांश लोगों ने कोरोना संक्रमण से बचने के लिये मास्क लगाने तक से गुरेज किया। सब्जी, दूध व दवा खरीदने का बहाना बनाकर घर से निकले लोग दिनभर मोहल्लों में जमघट लगाकर बैठे रहे। कुछ ने मोहल्ले में ही पत्ते और ऑनलाइन लूडो खेलना शुरु कर दिया, जिसे देखने के लिए जमघट लगा रहा। लॉकडाउन (lockdown में सबसे ज्यादा खाराब हालात शहर की बस्तियों और बिरगांव इलाके में देखने को मिली। यहां जमघट देखकर स्पष्ट दिख रहा था, कि लोग लॉकडाउन के नियमों का पालन नहीं कर रहे है।

सड़कों में पुलिस मुस्तैद, बस्तियों से तौबा

लॉकडाउन (lockdown के मद्देनजर पुलिस ने सड़कों में सख्ती कर रखी है। पुलिस की सख्ती का असर सड़को में दिख भी रहा है। बल की कमी के चलते गलियों में जाने से पुलिस अधिकारी बच रहे हे। पुलिस की इस खामियां का फायदा उठाकर मोहल्ले और बस्तियों में रहने वाल लोग एकजुट होकर अपना मनोरंजन कर रहे है और कोरोना वायरस के संक्रमण को बुलावा दे रहे है।

डीजीपी ने दिया सख्ती का निर्देश

लॉकडाउन (lockdown ) में राजधानीवासियों की इस मनमानी को देखते हुए डीजीपी डीएम अवस्थी ने प्रदेश के सभी पुलिस अधीक्षकों को सख्ती से लॉकडाउन का पालन कराने का निर्देश दिया है। जहां नियमों की ज्यादा तोड़ा जा रहा है, वहां फिक्स प्वाइंट लगाकर पुलिसकर्मियों को ड्यूटी लगाने की बात कही है। लॉकडाउन (lockdown) की सख्ती के दौरान आम नागरिक से अभद्रता ना हो इसका विशेष ध्यान रखने का निर्देश डीजीपी अवस्थी ने आईजी और सभी पुलिस अधीक्षकों से कहा है।  

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*