rasiya studant

Chhattisgarh news: रूस में फंसे प्रदेश के 325 छात्र, परिजनों ने वापस लाने की मांग

मेडिकल कॉलजे नालचीक में 2017 से मेडिकल की कर रहे पढ़ाई

रायपुर. Chhattisgarh news कोटा से छात्रों को वापस लाने के बाद अब अन्य राज्यों और देशों में फंसे बच्चों के माता पिता की भी सरकार से आस बढ़ गई है। इसी तरह छत्तीसगढ़ के 325 मेडिकल छात्र रुस में फंसे हुए हैं।

यह भी पढ़ें- रायपुर की पेंट फैक्ट्री में लगी आग, 3 घंटे की मशक्कत के बाद बुझी

रुस में कोराना के संक्रमण की स्थिति के देखते हुए इन बच्चों के माता पिता की चिंता बढऩे लगी है। बतादें कि रुस काबारदीनों बल्कारियन स्टेट मेडिकल कॉलजे नालचीक में 2017 से मेडिकल की पढ़ाई कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें- BIG NEWS: पंजाब में दो हफ्ते और बढ़ा कर्फ्यू.. लॉकडाउन में सुबह चार घंटे छूट

रुस में बीते दो माह से लगे लॉकडाउन से छात्र (Chhattisgarh news) हॉस्टल में ही कैद होकर रहे गए हैं। रुस में रूस में फंसे 300 से ज्यादा छात्रों के परिजनों ने सरकार से मदद की गुहार लगाई है। बताया जा रहा है कि ये सभी छात्र एमबीबीएस की पढ़ाई करने रूस गए हुए थे।

परिजनों ने सरकार से किया आग्रह

एक छात्र के पिता सुनील सराफ ने बताया (Chhattisgarh news) कि रूस में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को लेकर वे परेशान हैं। छात्र एक ही इमारत में कैद होकर रहने के लिए मजबूर हैं। उन्होंने भूपेश सरकार से मदद की गुहार लगाते हुए कहा है कि सरकार हमारे बच्चों को वापस लाने में मदद करें।

संक्रमण का खतरा बरकरार

परिजनों ने बताया कि फ्लोर पर 60 से अधिक छात्र निवास कर रहे हैं, जो एक ही किचन व बाथरूम का उपयोग कर रहे हैं। कुछ दिन पहले हमारे पास की मकान में दो छात्रों को कोरोना संक्रमित पाया गया।

रायपुर की पेंट फैक्ट्री में लगी आग, 3 घंटे की मशक्कत के बाद बुझी

ऐसे में एक साथ इतनी संख्या में (Chhattisgarh news) छात्र होने से सभी के मन में संक्रमण फैलने का डर है। इस संबंध में 40 छात्रों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी ट्वीट करके अपने परेशानी बताई थी।

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*