Corana infection,

प्रवासी मजदूरों को वापस लाने छत्तीसगढ़ को मिल गई है तीन ट्रेन!

रायपुर . अब जल्द ही छत्त्तीसगढ़ के मजदूर घर लौटेंगे। Train demand लॉकडाउन की वजह से अन्य राज्यों में फंसे मजदूरों को वापस लाया जा रहा है। खबर मिल रही है कि छत्तीसगढ़ सरकार को इसके लिए तीन ट्रेनों की मंजूरी मिली है। इन प्रवासी मजदूरों को नई दिल्ली, जम्मू और सूरत से ट्रेन की केंद्र से वापस लाया जाएगा। बता दें कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने केंद्र सरकार और रेल मंत्री पीयूष गोयल को पत्र लिखकर उनसे छत्तीसगढ़ के प्रवासी श्रमिकों की वापसी के लिए Train demand ट्रेने मांगी थीं।

ये भी पढ़ेमानपुर में पुलिस और नक्सल मुठभेड़, थाना प्रभारी शहीद, 4 माओवादी मारे गए

छत्तीसगढ़ सरकार भी अपने श्रमिकों को दूसरे राज्यों में से निकालने की जुगत लगा रही है। इसी कड़ी में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने Train demand रेल मंत्री पीयूष गोयल को पत्र लिखा है। इसमें उन्होंने लिखा है कि प्रदेश के श्रमिक विभिन्न राज्यों में फंसे हुए हैं, जिन्हें वापस छत्तीसगढ़ लाने के लिए २८ ट्रेनों का संचालन किया जाए। आगे अनुरोध किया कि जल्द से जल्द ट्रेन Train demand संचालन की तारीख और समय बताएं जिससे मजदूरों को राहत मिले।

ये भी पढ़े कलक्ट्रेट में उमड़ी मजदूरों की भीड़, पुलिस ने खदेड़ा

सीएम बघेल ने पत्र में बताया कि मजदूरों से संपर्क करने की पूरी कोशिश की जा रही है। हेल्पलाइन और अन्य माध्यमों से प्राप्त सूचना के अनुसार लगभग 1.17 लाख से भी अधिक प्रवासी कामगार देश के 21 राज्यों और 4 केन्द्र शासित प्रदेशों में फंसे होने की जानकारी मिली है। बघेल ने कहा कि भारत सरकार के द्वारा फंसे हुए मजदूरों की उनके घर तक वापसी के लिए Trains ट्रेनों के संचालन के निर्णय का स्वागत करता हूं।

सीएम ने इन ट्रेनों की मांग की है

जम्मू से रायपुर-बिलासपुर 7 ट्रेनें, लखनऊ से रायपुर-बिलासपुर 3 ट्रेनें, कानपुर से रायपुर-बिलासपुर 2 ट्रेनें, चेन्नई से रायपुर-बिलासपुर 1 ट्रेन, बंगलौर से रायपुर-बिलासपुर 1 ट्रेन, पुणे से रायपुर-बिलासपुर 2 ट्रेनें, इलाहाबाद से बिलासपुर 1 ट्रेन, दिल्ली से रायपुर-बिलासपुर 3 ट्रेनें, हैदराबाद-सिकंदराबाद से रायपुर-बिलासपुर 3 ट्रेनें, विशाखापट्नम से रायपुर 1 ट्रेन, सूरत-अहमदाबाद से रायपुर 1 ट्रेन, कोलकाता से रायपुर 1 ट्रेन, जयपुर से रायपुर 1 ट्रेन, पटना से दुर्ग 1 ट्रेन के संचालन का आग्रह किया है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*