BJP leader commented,

छत्तीसगढ़ में भाजपा की कमान पूर्व केंद्रीय मंत्री विष्णुदेव साय के हाथ में

रायपुर. छत्तीसगढ़ में भाजपा ने अपने प्रदेश अध्यक्ष बदल दिया है। पूर्व केंद्रीय मंत्री विष्णुदेव साय को छत्तीसगढ़ भाजपा की कमान दिल्ली दरबार ने सौंपी है। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष (Chhattisgarh BJP President) की जिम्मेदारी किसी आदिवासी नेता को भी सौंपे जाने की संभावनाएं शुरू से ज्यादा थीं ।

दरअसल विधानसभा चुनाव के बाद लंबे समय से छत्तीसगढ़ में भाजपा अध्यक्ष (Chhattisgarh BJP President) बदले जाने की बात चली रही थी। जिस पर भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व ने आज फैसला ले लिया। विष्णुदेव साय ने जशपुर जिले के कांसाबेल तहसील के बगिया गांव के रहने वाले हैं. वे एक किसान परिवार से निकलकर केंद्रीय राजनीति तक पहुंचे हैं. में एक किसान परिवार से निकल कर केन्द्रीय मंत्री तक का सफर तय किया है।

यह भी पढ़े: छत्तीसगढ़ के ऑरेंज, रेड, और ग्रीन जोन वाले विकासखंडों की नई सूची जारी

इसके साथ ही उन्हें डॉक्टर रमनसिंह का करीबी माना जाता है, उन्होनें रायगढ़ लोकसभा में 20 साल तक एकछत्र राज किया। गौरतलब है कि 2014 के लोकसभा चुनाव में प्रदेश से भाजपा के 10 सांसद लोकसभा में पहुंचे थे। इनमें से कुछ वरिष्ठता के लिहाज से विष्णुदेव साय से भी वरिष्ठ थे।

इन सबके बावजूद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में बने एनडीए की सरकार में प्रदेश से केन्द्रीय मंत्रीमंडल में जगह बनाने में सफल रहे। इसके पीछे विष्णुदेव साय (Chhattisgarh BJP President) की बेदाग छवि और उनकी मिलनसार व्यवहार के साथ गुट की राजनीति से दूर रहने को श्रेय दिया गया था।

यह भी पढ़े: फांसी लगाकर युवक ने दी जान, दो दिन पहले मां की सड़क हादसे में हुई थी मौत

पिछले लोकसभा चुनाव में जब प्रदेश के निवर्तमान सांसदों के टिकट काटे जाने को लेकर चर्चाएं शुरू हुईं तो सबसे पहले विष्णु देव साय ने अपना नाम रखा और चुनाव न लड़ने की सहमति जताई थी।

उनके इस कदम का केंद्रीय नेतृत्व पर सार्थक प्रभाव पड़ा था। इससे पहले पिछले लोकसभा चुनाव के समय तत्कालीन राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने धरमलाल कौशिक को हटाकर विक्रम उसेंडी को अध्यक्ष बनाया था।

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*