delhi anand vihar station

lockdown: कामगारों और मजदूरों को राज्यों में रोकने केंद्र सरकार ने जारी किया निर्देश

दिल्ली. कोरोना संक्रमण वायरस के कारण हुए लॉकडाउन (lockdown) के चलते फैक्ट्रियों और कारखानों को बंद कर दिया है। काम ना मिलने की वजह से परेशान देश के हर राज्यों से कामगारों और मजदूरों ने पलायन करना शुरु कर दिया है। लॉकडाउन में वाहन नहीं मिलने की वजह से वो पैदल ही अपने घर की तरफ बढ़ रहे है। इस स्थिती के उत्पन्न होने से देश में खतरा बढ़ रहा है।

लॉकडाउन (lockdown) में कामगारों और मजदूरों का पलायन रोकने के लिए केंद्र सरकार ने राज्यों को निर्देश जारी किया है। निर्देश में राज्य सरकार को निर्देश दिया है, कि वो मजदूरी का सही समय पर भुगतान कराने के संबंध में निर्देश पालन करें और मजदूर जहां है, उनका वहीं पर रुकने का इंतजाम कराए। केंद्र सरकार के इस निर्देश को कुछ राज्यों ने पहल में लाना शुरु कर दिया है। लॉकडाउन के दौरान लोग परेशान ना हो इसलिए सभी राज्यों के सीएम सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों को पलायन ना करने का निर्देश दे रहे है। मजदूर जहां है, वहां उनके रुकने के लिए राज्य सरकारों ने प्रयास करना शुर कर दिया है।

संक्रमित मरीजों की संख्या पहुंची 979

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय से जारी आंकड़ो के अनुसार लॉकडाउन (lockdown) के दौरान भारत में पांचवे दिन कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 979 पहुंच चुकी है। कोरोना वायरस से ग्रसित 86 लोगों ठीक हुए हैं और 25 लोगों की अब तक इस वायरस के चपेट में आने से मौत हो चुकी है। राज्य सरकार ने छात्रों और मजदूरों से घर खाली करवाने के खिलाफ कार्रवाई का निर्देश जारी किया है।

सीएम केजरीवाल ने जारी की अपील

लॉकडाउन (lockdown) के दौरान मजदूरों और कामगारों को दिल्ली में रोकने के लिए सीएम अरविंद केजरीवाल ने सोशल मीडिया में अपील जारी की है। उन्होंने दिल्ली में रहने वाले कामगारों और मजदूरों से गांव ना जाने के लिए कहा है। उन्होंने लिखा है कि भीड़ में आपको कोरोना होने का खतरा है। उन्होंने दिल्ली सरकार द्वारा रहने और खाने की उचित व्यवस्था करने की बात मजदूरों और कामगारों से कही है।

सख्त कदम उठाने के लिए पीएम ने माफी मांगी

लॉकडाउन (lockdown) का सख्ती से पालन हो इसलिए केंद्र सरकार ने सभी राज्यों का निर्देश जारी किया है। लॉकडाउन में सख्ती होने की वजह से पीएम नरेंद्र मोदी ने मन की बात में कठोर कदम उठाने की वजह से देशवासियों से माफी मांगी है। उन्होंने कहा कि मुझे पता है कि आप लोग सख्ती के चलते मुझसे नाराज है, लेकिन इस लड़ाई को जीतने के लिए कठोर उपायों की आवश्यकता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*