Call in jail

Call in jail: छत्तीसगढ़ की जेलो में बंद कैदियों को मिल रही मोबाइल सुविधा, CM तक पहुंची जानकारी

रायपुर. छत्तीसगढ़ की जेलों में बंद कैदी फोन के जरिए अपने परिजनों से बात (Call in jail) कर रहे है। प्रदेश की जेलों की यह जानकारी मंगलवार को सीएम भूपेश बघेल तक पहुंची। सीएम भूपेश बघेल ने इस जानकारी पर प्रसन्नता जताई है।

कोरोना वायरस के मद्देजनर जेल में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने। बंदियों को मास्क और हैंड सेनीटाइजर उपलब्ध कराने का निर्देश सीएम बघेल ने जेलरों को दिया है। बंदियों के लिए जेल में मनोरंजन के साधन उपलब्ध कराने की बात कही है।

वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए बंदियों के पूछे हॉल

सीएम बघेल ने मंगलवार को जेल के बंदियों से वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए बात (Call in jail) की। कोरोना संक्रमण से बचाव व्यवस्था की जानकारी सीएम ने बंदियों से पूछी।

यह भी पढे़: Bastar Alert: दिन में भेजा जाएगा जवानों का राशन, कारण है यह…

जेलों के प्रवेश द्वार पर सेनेटाईजर और थर्मल स्केनर की व्यवस्था करने का निर्देश सीएम ने दिया है। वीडियो कांफ्रेसिंग के दौरान जेल मंत्री ताम्रध्वज साहू और अपर मुख्य सचिव सुब्रत साहू उपस्थित थे।

परिजनों से जेल प्रबंधन करवा रहा बात

प्रदेश में लॉकडाउन के कारण बंदियों से परिजन मुलाकात नहीं कर सकते। ऐसी स्थिति में बंदियों को जेल प्रशासन द्वारा उनके सगे संबंधियों से कॉलिग सिस्टम (Call in jail) के जरिए बात कराई जाती है।

यह भी पढे़: Half Bijlibill yojna: छत्तीसगढ़ सरकार की हाफ बिजली बिल योजना का इस माह नहीं मिलेगा लाभ

बंदियों को जेल प्रशासन द्वारा वर्तमान में स्वस्थ मनोरंजन के लिए रंगीन टी.व्ही., कैरम, शतरंज, रेडियों, कैरम, पत्र-पत्रिकाएं और पुस्तक उपलब्ध कराई जा रही है।

प्रदेश में जेल और कैदियों की संख्या

  • 5 केंद्रीय जेल
  • 12 जिला जेल
  • 16 उप जेल
  • जेल की आवासीय क्षमता 12 हजार 823
  • 1 अप्रैल 2020 की स्थिति में 17 हजार 131 बंदी उपस्थित

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*