BIKRU KAND,

बिकरू कांड: विकास दुबे के पिता, पत्नी,भाई और बहू की होगी गिरफ्तारी!

चौबेपुर थाने में 9 लोगों पर FIR दर्ज

कानपुर। कानपुर के बिकरू कांड (BIKRU KAND) के मास्टरमाइंड विकास दुबे के पिता, पत्नी, भाई और उसकी पत्नी पर गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है। पुलिस ने विकास दुबे की पत्नी ऋचा दुबे,पिता रामकुमर दुबे, भाई दीपक दुबे, पत्नी अंजली दुबे समेत खास गुर्गों के खिलाफ केस दर्ज किया है।

सभी पर फर्जीआईडीपर सिम लेने और फर्जी दस्तावेज लगाकर शस्त्र लाइसेंस खरीदने का आरोप है। बिकरू कांड की जांच कर रही एसआईटी ने इस बात का खुलासा जांच करने के बाद किया है। एसआईटी की सिफारिश पर चौबेपुर थाने में 9 लोगों पर एफआईआर दर्ज की गई थी।

आरोपियों को जेल भेजा जाए

आईजी मोहित अग्रवाल ने आदेश दिया है कि बिकरू कांड में दजज़् की गई एफआईआर की 15 दिनों में विवेचना कर आरोपियों को जेल भेजा जाए। हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे ने 2 जुलाई, 2020 की रात अपने गुर्गो के साथ मिलकर आठ पुलिसकर्मियों की बेरहमी से हत्याकर दी थी। इस घटना के बाद जांच कर हरी एसटीएफ ने विकास दुबे (BIKRU KAND) सहित उसके 6 बदमाशों को एनकाउंटर में मार गिराया था। बिकरू कांड से जुड़े ३६ लोगों को जेल भेजा जा चुका है।

30 दिन के अंदर कार्रवाई करने का निर्देश

बिकरू कांड (BIKRU KAND) की जांच कर रही एसआईटी की रिपोर्ट के बाद आईजी मोहित अग्रवाल ने डीआईजी, एसपी ग्रामीण, एसपी ग्रामीण समेत विभाग के आलाधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की। आईजी मोहित अग्रवाल ने आदेश दिया है कि एसआईटी की जांच में जिन पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई के आदेश प्राप्त हुए हैं, उनके विरुद्ध 30 दिनों के भीतर विभागीय जांच कर कार्रवाई को पूरा करें।

इन लोगों के खिलाफ दर्ज हुआ है केस

एसआईटी की रिपोर्ट के बाद चौबेपुर थाना में शिवा त्रिपाठी, अखिलेश कुमार, दिनेश रवींद्र, छोटे बउवा, विष्णुपाल उर्फ जिलेदार, अंजली दुबे, दीपक दुबे, रामकुमार के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। सभी पर फर्जी दस्तावेज तैयार करने और धोखधड़ी की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है।

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*