Doctors Protest,

हिंदूराव अस्पताल के आक्रोशित डॉक्टरों ने PM मोदी को लिखी चिट्ठी

कोरोना काल में डॉक्टरों की सैलरी रोकी

दिल्ली. कोरोना काल में संक्रमितों का उपचार कर रहे, दिल्ली के हिंदूराव अस्पताल के डॉक्टर (Doctars Protest) अब वेतन के लिए संघर्ष कर रहे है। डॉक्टरों को पिछले तीन माह से वेतन नहीं मिला है। वेतन का भुगतान हो सके, इसलिए डॉक्टरों ने अब पीएम नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखी है।

रेजीडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन (RDA) के अध्यक्ष अभिमन्यु सरदाना ने कहा है कि बकाया सैलरी दिए जाने की मांग को लेकर आरडीएम के अंर्तगत आने वाले सभी अस्पतालों के डॉक्टर और पैरामेडिकल स्टाफ गुरुवार को जंतर-मंतर (Doctars Protest)  पर इकठ्ठा होंगे।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री को लिख चुके पत्र

पीएम नरेंद्र मोदी को पत्र लिखने से पहले आक्रोशित डॉक्टर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन को पत्र लिखकर अस्पताल प्रबंधन की मनमानी से अवगत करा चुके हैं। आरडीए ने कहा है कि वह लगातार प्रशासन और कॉरपोरेशन से बात कर रहे हैं लेकिन अब तक उन्हें वेतन नहीं मिल पाया है। पीएम मोदी को लिखे पत्र में डॉक्टरों ने वेतन और भत्ता जारी करने की मांग की है। डॉक्टरों (Doctars Protest) का कहना है, कि सैलरी नहीं मिलने से परिवार का जीवन यापन मुश्किल है।

22 सितंबर से दे रहे धरना

अपनी सैलरी की मांग को लेकर डॉक्टर और मेडिकल स्टॉफ पिछले 22 सितंबर से धरना दे रहे हैं। नार्थ दिल्ली के मेयर जय प्रकाश ने बुधवार को कस्तूरबा और राजन बाबू अस्पताल का दौरा किया था। वे प्रदर्शनकारी डॉक्टरों से भी मिले हे। मेयर जय प्रकाश ने डॉक्टरों की समस्या का समाधान करने का आश्वासन दिया था।

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*