amaranaath yaatra,

अमरनाथ यात्रा: 5 जुलाई को होगी पवित्र छड़ी मुबारक की पहली पूजा

आज दशनामी अखाड़े के महंत दीपेंद्र गिरी ने किया खुलासा

दिल्ली. बाबा बफार्नी के भक्तों के लिए अच्छी खबर है। अमरनाथ यात्रा की पवित्र छड़ी मुबारक की पहली पूजा पहलगाम में 5 जुलाई को होगी। इस बात का खुलासा सोमवार को दशनामी अखाड़े के महंत दीपेंद्र गिरी ने किया है। महंत गिरी के अनुसार 5 जुलाई से पहलगाम के गौरी मंदिर में छड़ी मुबारक की स्थापना होगी और भूमि पूजा होगी। इस पूजा के साथ ही 2020 की अमरनाथ यात्रा (amaranaath yaatra) शुरु मानी जाएगी। इस दिन व्यास पूर्णिमा 5 जुलाई से पड़ रही है और इसी दिन से अमरनाथ यात्रा की शुरुआत होगी।

यह भी पढ़े: Corona Update: बीते 24 घंटे में देश में कोरोना के 11 हजार 929 नए संक्रमित मरीज मिले

घाटी भर के मंदिरों की होगी पूजा

छड़ी मुबारक की स्थापना के बाद दो हफ्ते तक पवित्र छड़ी मुबारक को घाटी के सभी मंदिरों में पूजा अर्चना के लिए ले जाया जाएगा। 20 जुलाई को शंकराचार्य मंदिर और 21 जुलाई को शरीका भवनी मंदिर में छड़ी की स्थापना की जाएगी। अमरनाथ यात्रा (amaranaath yaatra) इस साल 23 जून से शुरु होनी थी, लेकिन इस बार यात्रा में कोरोना संक्रमण का खतरा मंडरा रहा है।  

यह भी पढ़े: लॉकडाउन की अवधि में कर्मचारियों को दे पूरा वेतन: सुको

वार्षिक तैयारियां शुरु

यात्रा संचालन को लेकर अभी अमरनाथ श्राइन बोर्ड ने यात्रा शुरु करने के संबंध में अंतिम फैसला नहीं दिया है। सूत्रों की मानें तो अमरनाथ यात्रा दो हफ्ते की हो सकती है। 21 जुलाई से 3 अगस्त तक यात्रा की संभावना है। इस संभावना को देखते हुए वार्षिक अमरनाथ यात्रा (amaranaath yaatra) की तैयारियां शुरु कर दी गई हे। बालटाल से गुफा तक के रासते पर काम शुरु कर दिया गया है। यात्रा के लिए बर्फ को काटकर रास्ता बनाया जा रहा है। मजदूरों को उम्मीद है, कि यात्रा की घोषणा से पहले उनका काम पूरा हो जाएगा।

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*