#NirbhayaCase,

#NirbhayaCase : फांसी के फंदे पर झूल गए निर्भया के चारों दोषी

#NirbhayaCase : आखिर मिल गया इंसाफ

रायपुर . #NirbhayaCase, देश का इंतजार आखिर खत्म हो गया। साल 2012 में राजधानी दिल्ली में हुए निर्भया गैंगरेप कांड में शुक्रवार को सवा सात साल के बाद निर्भया के चारों दोषियों को फांसी के फंदे पर लटका दिया गया।

यह भी पढ़ें: Historic decision : जानें किस मंत्री को विधानसभा में घुसने पर लगाई पाबंदी

#NirbhayaCase : तिहाड़ जेल के फांसी घर में सुबह ठीक 5.30 बजे निर्भया के चारों दोषियों को फांसी दे दी गई। निर्भया के चारों दोषियों विनय, अक्षय, मुकेश और पवन गुप्ता को एक साथ फांसी के फंदे पर लटकाया गया। सात साल 3 महीने और तीन दिन पहले 16 दिसंबर 2012 को दिल्ली में हुई इस घटना ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया था।

Corona Alert: छत्तीसगढ़ में कोरोना वायरस की दस्तक

NirbhayaCase : दोषियों को फांसी दिए जाने के बाद लोगों ने तिहाड़ के बाहर मिठाई भी बांटकर खुशियां मनाई। निर्भया की मां आशा देवी ने लंबे समय के लिए लड़ाई लड़ी। राजधानी रायपुर में भी इसका असर दिखा।

न्यूज स्टॉल्स डॉट कॉम की टीम ने लाेगों से उनकी राय जानी। सभी ने एक स्वर में कहा कि यह पहले ही हो जाना चाहिए था, लेकिन देर से सही पर इंसाफ मिल गया। आशा देवी का कहना है कि वह अब देश की दूसरी बेटियों के लिए लड़ाई लड़ेंगी। हर बेटी जिसके साथ ऐसा अनाचार हुआ है, उन्हें आगे आकर हालात का सामना करना होगा। अपने लिए आवाज उठानी पड़ेगी।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*