ब्राउन शुगर के साथ 3 आरोपी गिरफ्तार

बिलासपुर। छत्तीसगढ़ की न्यायधानी बिलासपुर में नाकोटिक्स सेल और सरकंडा पुलिस ने दिल्ली और रायपुर के तीन युवकों से नशीला म्याउं-म्याउं (DRUGS) जब्त किया है। पुलिस के अनुसार जब्त 11 ग्राम नशीले पदार्थ की कीमत 60 हजार रूपए है। आरोपितों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्रवाई की गई है।

एसपी पारूल माथुर ने बताया कि शुक्रवार की शाम सूचना मिली कि एक युवक नशीला पदार्थ एमडीएमए(म्याउं-म्याउं) बेचने के लिए ग्राहक की तलाश कर रहा है। इस पर नारकोटिक्स सेल और सरकंडा पुलिस की संयुक्त टीम ने राजकिशोर नगर चौक के पास घेराबंदी कर रविशंकर साहू(28) निवासी ग्राम हसुआ पोस्ट गिधौरी जिला बलौदाबाजार को पकड़ लिया।

पूछताछ में वह पुलिस को गुमराह कर रहा था। कड़ाई करने पर उसने नशीला पदार्थ एमडीएमए(म्यााउं-म्याउं) रखने की जानकारी दी। आरोपित के कब्जे से पुलिस ने 3.5 ग्राम नशीला पदार्थ जब्त कर लिया।

ग्राहक बनकर दोनों युवकों को पकड़ लिया

आरोपित ने बताया कि वह भिलाई और रायपुर के प्रमुख पब और नाइट क्लब में काम कर चुका है। इस दौरान उसकी पहचान नशीला पदार्थ (DRUGS) बेचने वालों से हुई थी। उनके संपर्क में आकर वह नशीले पदार्थों का सप्लायर बन गया। उसे यह सामान रायपुर महावीर नगर में रहने वाला आकाश भारद्वाज देता है। इसे वह ग्राहकों तक पहुंचाता है। इस काम में एमएमआइ अस्पताल कैंपस राजेंद्र नगर रायपुर में रहने वाला आदर्श अग्रवाल उसकी मदद करता है। इस पर पुलिस की टीम ग्राहक बनकर दोनों युवकों को पकड़ लिया। पुलिस ने आरोपित युवकों के कब्जे से कुल 11 ग्राम नशीला पदार्थ जब्त कर लिया।

दिल्ली में करता था नशा, रायपुर में आकर बना लिया व्यवसाय

नशीले पदार्थ की बिक्री में शामिल आरोपित आकाश भारद्वाज (DRUGS) ने बताया कि वह मूल रूप से उत्तम नगर पश्चिम दिल्ली का रहने वाला है। दिल्ली में वह अपने साथियों के साथ एमडीएमए(म्याउं-म्याउं) का नशा करता था। शादी के बाद वह रायपुर में आकर रहने लगा। इस दौरान काम नहीं होने पर उसने इसी नशे के अपना व्यवसाय बना लिया। वह दिल्ली से नशे का सामान लाकर रायपुर में रविशंकर साहू और आदर्श अग्रवाल के माध्यम से सप्लाई करता था।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*