Jal-Jeevan-Mission,

सीएम बघेल ने लिया सख्त एक्शन, जल जीवन योजना के पूरे टेंडर निरस्त

कैबिनेट की बैठक में सीएम बघेल ने दिए निर्देश

रायपुर। जल जीवन योजना (JAL JIVAN YOJNA) टेंडर में मिली गड़बड़ी शिकायत को लेकर सीएम भूपेश बघेल ने सख्त एक्शन लिया है। कैबिनेट की बैठक में सीएम बघेल ने योजना के तहत 10 हजार करोड़ के टेंडर निरस्त करने के निर्देश दिए है। मामलें में यह निर्णय सीएम बघेल ने सीएस की अध्यक्षता में बनी कमेटी की रिपोर्ट आने के बाद निर्णय लिया है। जांच में सीएस की कमेटी ने प्रक्रिया में गड़बड़ी पाई थी। उक्त मामलें में शिकायत सही पाए जाने पर सीएम ने टेंडर को रद्द करने के निर्देश दिए है।

एक ही कंपनी और अपात्रों को ठेका मिलने की शिकायत

सीएम बघेल समेत प्रदेश के विधायकों के पास जल जीवन योजना (JAL JIVAN YOJNA) में अपात्रों को टेंडर देने और 6 हजार करोड़ का टेंडर एक ही कंपनी को देने की शिकायत मिली थी। शिकायत मिलने पर मामलें ने सीएम ने नाराजगी जताई और जांच करने का निर्देश दिया था। पीएचई के अधिकारियों ने नियमों के अनुसार टेंडर देने की बात कही थी। पूरे मामलें में एक इंजीनियर की भूमिका संदिग्ध होने की शिकायत ठेकेदारों ने की थी।

38.34 घरों में बिछनी है पाइप लाइन

केंद्र सरकार की इस योजना (JAL JIVAN YOJNA) के तहत छत्तीसगढ़ के भी 38.34 लाख घरों में पाइप लाइन के जरिये पानी की आपूर्ति की जानी थी। 15 अगस्त 2019 को प्रधानमंत्री के इस योजना के घोषणा के एक साल बाद भी इस योजना के टेंडर का मसला ही नहीं सुलझ पाया था। इस योजना के टेंडर में बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार की भी शिकायत आ रही थी।

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*