MEWALAL CHAUDHARY,

बिहार के शिक्षा मंत्री मेवालाल चौधरी ने दिया इस्तीफा,आज ही संभाला था पदभार

लगे थे भ्रष्टाचार के आरोप

पटना. भ्रष्टाचार के आरोपों से घिरे बिहार के शिक्षा मंत्री मेवालाल चौधरी (MEWALAL CHAUDHARY) ने इस्तीफा दे दिया है। मेवालाल चौधरी ने शपथ ग्रहण के बाद आज ही पदभार संभाला था, लेकिन कुर्सी संभालते ही चौधरी विपक्षी दल RJD और कांग्रेस के निशाने पर आ गए। मेवालाल ने जब से शपथ ग्रहण की थी, विपक्ष लगातार उनके कारनामों को उजागर कर रहे थे।

भ्रष्टाचार से आरोप लगने के बाद नीतीश सरकार भी बचाव की मुद्रा में आ गई। इस दौरान नवनिर्वाचित शिक्षा मंत्री मेवालाल चौधरी (MEWALAL CHAUDHARY) बुधवार शाम को मुख्यमंत्री आवास पर पहुंचे और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से करीब आधे घंटे तक चर्चा की।

बुधवार शाम को हुई इस मुलाकात के बाद मीडिया व राजनीतिक हलकों में लगातार यह मुलाकात चर्चा की विषय बन गई। इस बीच आज गुरुवार को मेवालाल चौधरी ने शिक्षामंत्री के पद से इस्तीफे की घोषणा करके सभी को चौंका दिया है। आपको बता दें कि मेवालाल चौधरी पर सबौर विश्वविद्यालय का कुलपति रहते हुए नियुक्ति घोटाले में मामला दर्ज हुआ था। इस मामले में भागलपुर ADG-1 के पास विचाराधीन केस है और चार्जशीट का इंतजार किया जा रहा है।

2015 में पहली बार बने थे विधायक

मेवालाल चौधरी (MEWALAL CHAUDHARY) 2015 में पहली बार JDU विधायक बने थे। विधायक बनने से पहले चौधरी एक शिक्षक के तौर पर सेवा दे रहे थे। जब मेवालाल चौधरी कृषि विश्वविद्यालय कुलपति रहे थे, तब साल 2012 में सहायक प्राध्यापक और जूनियर वैज्ञानिकों की बहाली हुई थी। इस दौरान चौधरी पर नियुक्ति में धांधली का आरोप है। कृषि विश्वविद्यालय में नियुक्ति घोटाले का मामला सबौर थाने में 2017 में दर्ज किया गया था। हालांकि इस मामले में उन्होंने कोर्ट से अग्रिम जमानत मिल गई थी और अभी तक कोर्ट में उनके खिलाफ चार्जशीट दाखिल नहीं की गई है।

देश-प्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*